मेरी बेटी मेरा अभिमान | Good Thoughts | हिंदी सुविचार | Beti

0
875
मेरी बेटी मेरा अभिमान - Good Thoughts - हिंदी सुविचार - Suvichar-beti-vb good thoughts

मेरी बेटी मेरा अभिमान – Good Thoughts – हिंदी सुविचार – Suvichar

मेरी बेटी मेरा अभिमान - Good Thoughts - हिंदी सुविचार - Suvichar-beti-vb good thoughts
मेरी-बेटी-मेरा-अभिमान-Good-Thoughts-हिंदी-सुविचार-Suvichar-beti-vb-good-thoughts

एक अस्पताल में महिला चिकित्सक के पास पती – पत्नी   आते है, पत्नी गर्भवती थी, महिला चिकित्सक
अपने अस्पताल में ही भर्ति पेशेंट को देखने के लिए राउंड पे गई थी. पती – पत्नी महिला चिकित्सक का
इंतज़ार का कर रहे थे.

तभी गर्भवती स्त्री ने अपने पति से कहा… आप का क्या अंदाज है…? मुझे लडका होगा या लडकी…?
पति बोला- हमें अगर लड़का होता है… तो मैं उसे अच्छी शिक्षा दुंगा, अच्छा और बुरा क्या है ये बताउंगा,
उसके साथ खुब मस्ती करूंगा, और अपने देश का सभ्य नागरिक बनना सिखाऊगा.
पत्नी बोली-  बहुत बढ़िया, लेकिन अगर लड़की हुई तो…?

पति बोला – अगर हमारी लड़की होगी तो, मुझे तो उसे कुछ भी सिखाने की जरूरत ही नही होगी…!
क्योंकि… मेरी बेटी, उन सभी में से एक होगी जो सब कुछ मुझे दोबारा से सिखाएगी, कैसे पहनना है…
कैसे खाना खाने का है…. क्या खाना है और क्या नहीं खाना है… क्या कहना है… क्या नही कहना है.
तुम यु समझो… वह एक तरह से, मेरी दूसरी मां ही होगी. वो मुझे अपना हीरो समझेगी, फिर चाहे मैं
उसके लिए कुछ खास करू या फिर ना करू.

जब भी मै कभी उसे किसी भी बात के लिए मना करूंगा तो मेरी बेटी मुझे समझेंगी, वो हमेशा अपने
पति की, मुझ से तुलना करेगी.
यह मायने नही रखता कि वह कितने भी साल की है, लेकिन वो हमेशा चाहेगी की मै उसे अपनी छोटी
गुड़ीया की तरह ही प्यार करूं.

मेरी बेटी मेरे लिए दुनिया से लड जाएगी. अगर कोई मुझे दुःख देता है,
तो वो उसे कभी क्षमा नहीं करेगी.
पत्नी बोलीं –  मतलब तुम यें कहना चाहते हो कि, आपकी बेटी जो सब करेगी वो
आपका बेटा नहीं कर पाएगा.
पति- नहीं, नहीं… हो सकता हैं, मेरा बेटा भी ऐसा ही करेगा, लेकिन वो पहले सिखेगा.
पर…! मेरी बेटी, इन सब गुणों के साथ पैदा होगी.
किसी बेटी का पिता होना हर इंसान के लिए बडे ही गर्व की बात है.

पत्नी बोली – लेकिन शायद तुम भुल रहे हो की, बेटी हमेशा हमारे साथ नही रहेगी…?
पति थोडा सा निराश होकर बोला – हां, लेकिन हम हमेशा उसके दिल में रहेंगे.
इससे कोई फर्क नही पडेगा चाहे वो कही भी जाए, बेटियाँ तो परी होती हैं.
जो हमेशा, बिना शर्त के प्यार और देखभाल के लिए जन्म लेती है.

बेटीयां सब के नसीबों में, कहाँ होती हैं
जो घर भगवान को पसंद आता है, वहां होती हैं.

मेरी बेटी मेरा अभिमान - Good Thoughts - हिंदी सुविचार - Suvichar-beti-vb good thoughts
मेरी-बेटी-मेरा-अभिमान-Good-Thoughts-हिंदी-सुविचार-Suvichar-beti-vb-good-thoughts

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here